October 23, 2020
  • October 23, 2020

Akadashi Mahatv or Aaj ka Panchang

By on March 16, 2019 0

Akadashi Mahatv or Aaj ka Panchang

akadashi day

akadashi day

Akadashi Mahatv or Aaj ka Panchang

Aaj ka panchang

दिनांक 16 मार्च 2019 ,दिन – शनिवार ,विक्रम संवत – 2075 ,शक संवत -1940 ,अयन – उत्तरायण ,ऋतु – वसंत ,मास – फाल्गुन
,पक्ष – शुक्ल,
,तिथि – दशमी रात्रि 11:33 तक तत्पश्चात एकादशी,

नक्षत्र – पुनर्वसु 17 मार्च रात्रि 02:14 तक तत्पश्चात पुष्य,

योग – सौभाग्य सुबह 07:37 तक तत्पश्चात ।

गुरू दीक्षा जरूरी क्यों ईसे भी पढें https://mantragyan.com/bhakti-or-gyan-yog/guru-dikcha-kyo-jaruri-ha-mahatv-kya-ha/

राहुकाल – सुबह 09:33 से सुबह 11:02 तक,

व्रत पर्व विवरण – फाल्गुन दशमी (ओड़िशा)
विशेष –

Akadashi Mahatv or Aaj ka Panchang

Akadashi Varat ke labh

➡ 16 मार्च 2019 शनिवार को रात्रि 11:34 से 17 मार्च, रविवार को रात्रि 08:51 तक एकादशी है ।

विशेष ~17 मार्च 2019 रविवार को एकादशी का व्रत (उपवास) रखें ।

🙏🏻 akadashi varat के पुण्य के समान और कोई पुण्य नहीं है ।

🙏🏻 जो पुण्य सूर्यग्रहण में दान से होता है, उससे कई गुना अधिक पुण्य akadashi के व्रत से होता है ।

🙏🏻 जो पुण्य गौ-दान सुवर्ण-दान, अश्वमेघ यज्ञ से होता है, उससे अधिक पुण्य akadashi के व्रत से होता है ।

🙏🏻 akadashi करनेवालों के पितर नीच योनि से मुक्त होते हैं और अपने परिवारवालों पर प्रसन्नता बरसाते हैं ।इसलिए यह व्रत करने वालों के घर में सुख-शांति बनी रहती है ।

Akadashi Mahatv

🙏🏻 धन-धान्य, पुत्रादि की वृद्धि होती है ।

🙏🏻 कीर्ति बढ़ती है, श्रद्धा-भक्ति बढ़ती है, जिससे जीवन रसमय बनता है ।

🙏🏻 परमात्मा की प्रसन्नता प्राप्त होती है ।पूर्वकाल में राजा नहुष, अंबरीष, राजा गाधी आदि जिन्होंने भी akadashi का व्रत किया, उन्हें इस पृथ्वी का समस्त ऐश्वर्य प्राप्त हुआ ।भगवान शिवजी ने नारद से कहा है : – akadashi का व्रत करने से मनुष्य के सात जन्मों के पाप नष्ट हो जाते हैं, इसमे कोई संदेह नहीं है ।akadashi के दिन किये हुए व्रत, गौ-दान आदि का अनंत गुना पुण्य होता है ।

Akadashi ke दिन करने योग्य

🙏🏻akadashi को दिया जलाके विष्णु सहस्त्र नाम पढ़ें …….विष्णु सहस्त्र नाम नहीं हो तो १० माला गुरुमंत्र का जप कर लें l अगर घर में झगडे होते हों, तो झगड़े शांत हों जायें ऐसा संकल्प करके विष्णु सहस्त्र नाम पढ़ें तो घर के झगड़े भी शांत होंगे !

कैसे बदले दुर्भाग्य को सौभाग्य में

➡ 17 मार्च 2019 रविवार को सूर्योदय से रात्रि 12:12 तक रविपुष्यमृत योग हैं ।

🌳 बरगद के पत्ते पर गुरुपुष्य या रविपुष्य योग में हल्दी से स्वस्तिक बनाकर घर में रखें |

Akadashi के दिन ये सावधानी रहे

🙏🏻महिने में १५-१५ दिन में एकादशी आती है akadashi का व्रत पाप और रोगों को स्वाहा कर देता है लेकिन वृद्ध, बालक और बीमार व्यक्ति akadashi न रख सके तभी भी उनको चावल का तो त्याग करना चाहिये ।

Vishesh Tips

🍥 विशेष – चतुर्थी को मूली खाने से धन का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)

दमा के लिए

➡ *नारियल की जटा जलाकर रख कर ले …कप्पड़ छान कर दे, थोडी राख शहद के साथ १ महीने तक ले, दमा चला जायेगा|

आर्थिक परेशानी हो तो

आर्थिक परेशानी हो, तो सतत ७ शुक्रवार महा-लक्ष्मी के मन्दिर में धूप-दीप दान करें; अपना पुरुषार्थ भी करें, लाभ होगा |

गाय की औरा

🐄 रोगी व्यक्ति अगर गाय के पीठ पे हाथ घुमाए और गाय खुश होवे तो सुवर्ण किरणे हवा में छोड़ती है जिस से रोगी ठीक हो जाता है…।

Hindu Panchang

दुर्गति से रक्षा:-

👉🏻 किसी व्यक्ति की मृत्यु हो रही हो तो उस के मुंह में गाय का दही दाल दो तो उस की दुर्गति नही होगी…. घरवालो को और आस पड़ोस को बोल देना की कोई मरे तो गंगाजल है तो ठीक नही तो गाय की दही दाल दे… दुर्गति नही होगी…

Akadashi Mahatv or Aaj ka Panchang

Sadhna ki jankari 👉 YouTube.com/mantragyan

Focus word :-

ईस लेख में Akadashi Mahatv or Aaj ka Panchang के बारे में बताये गया है है ताकि आप अपनी भौतिक विकास के सांथ सांथ अध्यात्मिक ऊंचाई हासिल करे। Akadashi Mahatv or Aaj ka Panchang लेख में बताए गए नियम पालन करें और साधना में सफलता हासिल करें ।

Thank you

क्रिया योग ,ध्यान योग ,मंत्र साधना शिविर में शामिल होना चाहते है तो संपर्क करे वाट्स अप नं 7898733596 साधना विषय :- 1.क्रीया योग की उस गुप्त साधना का अभ्यास जिनका, वीडियो या लेख में बताना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। २. ध्यान की खाश तकनीक। ३. मंत्र योग की खाश विधि। ४. समाधी की गुप्त रहस्य। ५. कुंडलिनी जागरण की गुप्त और विशेष टेक्निक। 6. आर्थिक और आध्यात्मिक विकास के लिये विशेष साधना विधि नोट :- Lockdown के बाद साधना शिविर में शामिल होकर आध्यात्मिक विकास करें । यदि आप का भाग्य में गुरु क्रपा नहीं है तो आप अभागा हैं। और गुरु दीक्षा लेकर ईस दिन गुरू मंत्र का विशेष अनुष्ठान कीया तो अभागा भी महा पुण्य वान, माहा भाग्यशाली बन जायेगा सिर्फ श्रद्धा विश्वास रखता हो !