October 30, 2020
  • October 30, 2020

Dhyan Me Man Ki Bakbak

By on January 24, 2019 2

Dhyan Me Man Ki Bakbak

Dhyan Me Men Ki Bakbak को कैसे रोके लोग जब मेडिटेशन करते हैं त्राटक करते हैं तो उनकी मन की तरंगे तेज क्यों हो जाती है? किन कारणों से Dhyan Me Man Ki Bakbak यानि मन की तरंगें तेज हो जाती हैं ? कौन सा ज्ञान योग है, ऐसा कौन सा उपाय है जिससे मन की तरंगों को रोककर अच्छे से हम मेडिटेशन कर पाए या त्राटक कर पाए ।

और अपने अध्यात्मिक जीवन में विकास कर पाऐं ? लगभग सभी साधक का यह सवाल होता है, कि जब हम त्राटक व मेडिटेशन करते हैं तो मन की तरंगे क्यों तेज हो जाती हैं, विचार क्यों बढ़ जाते हैं ?

क्रीया योग ईसे भी पढें :

जवाब

यदि आप नदी किनारे घुंमने गयें हैं ,नदी में लकड़ी पत्ता बह रहा है, नदी में लाश वह रहा है, कूड़ा करकट अन्य चीजें भी वह कर आ रही है ,आप नदी के पास से देख रहे हो तब तक तो ठीक है जैसे ही आपने अपने मन में यह सोचा की इतनी अच्छी नदी में किसने गंदी चीजें डाल दी तो आप उस में बह गए ।

जैसे अस्थि, लाश नदी में बह रही है आपने कहा इतनी सुंदर नदी में कौन मुर्दा डाल दिया तो आप उस में बह गए ।

आप साक्षी बनिए तभी तो दृष्टा भाव में जा पाएंगे इस मन में बहुत सारे विचार आएंगे – जाएंगे एक विचार उठा तो दूसरा विचार आएगा आपको उस विचार के बीच में टिके रहना है !

1. यही योग का सिद्धांत है , आप को नियंत्रण में रहना होगा ।

2. सभी भगवान की लीला है, यह भक्ति भाव है।

3. सर्व ब्रम्ह है, यह ज्ञानी का विचार है।

Dhyan Me Man Ki Bakbak होगा ही, मन में तरंगे उठेंगे

जैसे:- मन में क्या क्या उठ सकता है ?

1. काम ,

2.क्रोध

3. लोभ

4.मोह

5. राग

6. द्वेष, चिंताएं उठेगा ।

यह सारे मन के विकार, हमारे मन में ही सुप्त अवस्था में पडा था। लेकिन जैसे ही आप ने मन रूपी कमरे में झाडू लगाया यानि, मंत्र जप, ध्यान, त्राटक तो सारे कचरा निकलने लगा और आप भयभीत होने लगते हैं।

परंतु आपको द्रष्टा बने रहना है , आपको संकल्प – विकल्प उठना चालू होगा ! तेज गति से ऐसा महसूस होगा ,ऐसा ना करूंगा तो बर्बाद हो जाऊंगा परंतु आपको द्रष्टा बने रहना है ईससे सारे कचरा साफ होगा और मन की क्षमता बढ़ती जाएगी , तो आनंद की प्राप्ति होगी ।

लाभ :-

1. शरीर से आप ऊपर उठकर प्राणमय कोश में आ जाओगे मतलब आप प्राण को रोक रहे हो ।

2.और अभ्यास करते हो तो मनोगत शरीर में आ जाएंगे जो भी विचार उठ रही है ।आ रही है जा रही है पूर्ण होता महसूस होगा

3. आपको इसके ऊपर है विज्ञानमय शरीर

4. इसके ऊपर है आनंदमय शरीर मतलब आपको आनंद प्राप्त होगा जब आपके मन में क्षमता आने लगेगी तो आपको जो चीज सोचोगे फलीभूत होगी ।

आपका मन की तरंगों को एक दिशा में ले जाइए तो

1. आप पढ़ाई करते हो तो मन लगेगा

2. जिस कार्य को करोगे पर्फेक्ट करोगे

3. आप के भौतिक जीवन में सफलता मिलनी चालू हो जाएगी

4.मन की तरंगों को रोकने से भौतिक और आध्यात्मिक हर क्षेत्र में सफलता मिलना निश्चित है

मैं आशा करता हूँ Dhyan Me Man Ki Bakbak को कैसे रोके आपका संशय दूर हुआ होगा । दूसरी विधि क्रीया योग की है ईस विधि को जानने के लिए

मेरा युटुब पर क्रीया योग की लाईव वीडियो देखें । YouTube.com/mantragyan

आप मेरे साथ जूडें रहें follow करें ।आध्यात्मिक विकास के लिए आति उपयोगी सिद्ध होगा ।

लेख Dhyan Me Man Ki Bakbak उपयोगी लेख है तो साधको में सेयर करने की सेवा जरूर करें पुण्य कमायें

आज के लिए इतना ,मै परमात्मा से प्रार्थना करता हूँ आप का मन साधना और सेवा, सत्कर्म में लगा रहे ।

धन्यवाद

क्रिया योग ,ध्यान योग ,मंत्र साधना शिविर में शामिल होना चाहते है तो संपर्क करे वाट्स अप नं 7898733596 साधना विषय :- 1.क्रीया योग की उस गुप्त साधना का अभ्यास जिनका, वीडियो या लेख में बताना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। २. ध्यान की खाश तकनीक। ३. मंत्र योग की खाश विधि। ४. समाधी की गुप्त रहस्य। ५. कुंडलिनी जागरण की गुप्त और विशेष टेक्निक। 6. आर्थिक और आध्यात्मिक विकास के लिये विशेष साधना विधि नोट :- Lockdown के बाद साधना शिविर में शामिल होकर आध्यात्मिक विकास करें । यदि आप का भाग्य में गुरु क्रपा नहीं है तो आप अभागा हैं। और गुरु दीक्षा लेकर ईस दिन गुरू मंत्र का विशेष अनुष्ठान कीया तो अभागा भी महा पुण्य वान, माहा भाग्यशाली बन जायेगा सिर्फ श्रद्धा विश्वास रखता हो !