October 23, 2020
  • October 23, 2020

Sabhi Samashya Nivaran Totka

By on April 13, 2019 0

Sabhi Samashya Nivaran Totka

Sabhi Samashya Nivaran Totka 1

Sabhi Samashya Nivaran Totka 1

Sabhi Samashya Nivaran Totka ईस लेख में आपके जीवन में आने वाली विभिन्न, Sabhi Samashya Nivaran Totka बताया गया है।

आप ईन उपायों के द्वारा अपने जीवन की Sabhi Samashya से मुक्ति पायें।

🌷 chatra Navratri Totka 🌷

🌷 *काम धंधे में सफलता एवं राज योग के लिए !*

🙏🏻 *अगर काम धंधा करते सफलता नहीं मिलती हो या विघ्न आते हों तो शुक्ल पक्ष की अष्टमी हो.. बेल के कोमल कोमल पत्तों पर लाल चन्दन लगा कर माँ जगदम्बा को अर्पण करने से …. मंत्र बोले “*

 

🌷 *ॐ ह्रीं नमः ।Om श्रीं नमः । “*

 

🙏🏻 *और थोड़ी देर बैठ कर प्रार्थना और जप करने से राज योग बनता है गुरु मंत्र का जप और कभी कभी ये प्रयोग करें नवरात्रियों में तो खास करें | देवी भागवत में वेद व्यास जी ने बताया है ।*

 

💥 *विशेष ~ 13 अप्रैल 2019 शनिवार को शुक्ल पक्ष की अष्टमी हैं ।*

 

🌷 *ससुराल में तकलीफ हो तो* 🌷

 

👩🏻 *जिनको शादी के बाद कठिनाई आती है… ससुराल में ….उनको चैत्र मास शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को – ॐ ह्रीं गौरिये नम: | om ह्रीं गौरिये नम: | का जप करें | और प्रार्थना करें ” शिवजी की अति प्रिय हो माँ… हमारे परिवार में ये समस्या न रहें |*

 

कीसी भी साधना में सफलता के लीये जरूर पढ़े https://mantragyan.com/sadhnaye/sadhna-me-success-ke-liye/

 

🙏🏻 *”आपके परिचितों में किसी को भी बेटी, बहन शादी के बाद दिक्कते आते हो तो आप इनको बता दे |

ऐसा करें बेटी न कर पाये तो बाप तो करे, भाई करें, बहन करें की मेरी बेटी, बहन को ऐसी तकलीफ न हो ऐसा संकल्प करें, नाम और गोत्र का उच्चारण करके |*

 

chatra Navratri Totka

 

🙏🏻 *अभी chatra Navratri चल रही हैं । इसमें देवी मां को प्रसन्न करने के लिए लोग अलग-अलग तरीके अपनाते हैं।

श्रीमद्देवीभागवत महापुराण में कुछ ऐसे ही उपायों के बारे में बताया है, जिसे chatra Navratri में नवमी या अष्टमी को अपनाकर आप भी सुख, समृद्धि और शांति पा सकते हैं। साथ ही बुरी नजर से लेकर कलह जैसी बाकी समस्याओं को भी दूर कर सकते हैं।*

💰

Sabhi Samashya Nivaran Totka

Sabhi Samashya Nivaran Totka

*समृद्धि के लिए*

*माता के मंदिर में जाकर मूर्ति के सामने एक पान के पत्ते पर केसर में इत्र व घी मिलाकर स्वस्तिक बनाएं ।अब उस पर कलावा लपेटकर एक सुपारी रखें।*

 

💶 *पैसों की तंगी के लिए*

 

*नवमी तिथि या अष्टमी तिथि को माता का ध्यान कर घर के मंदिर में गाय के गोबर के उपले पर पान, लौंग, कर्पूर, व इलायची गूगल के साथ ही कुछ मीठा डालकर माता को धुनी (हवन) दें ।*

 

🚶🏻 *रुकावटें दूर करने के लिए*

 

*माता के मंदिर में पान बीड़ा चढ़ाएं, इस पान में कत्था, गुलकंद, सौंफ, खोपरे का बूरा और सुमन कतरी के साथ ही लौंग का जोड़ा रखें । सुपारी व चूना न डालें।*

 

💰 *व्यापार वृद्धि के लिए*

 

*किसी भी देवी मंदिर में जाकर अपनी गल्तियों के लिए माफी मांगे । माता को पान बीड़ा चढ़ाएं और 9 मीठे पान कन्याओं को दान करें ।*

🙄 *बुरी नजर के लिए*

 

*माता के मंदिर में पान रखकर नजर लगे व्यक्ति को पान में गुलाब की 7 पंखुड़ियां रखकर खिलाएं । नजर दोष दूर होगा ।*

 

☺ *आकर्षण शक्ति बढ़ाने के लिए*

 

*पान के पत्ते की जड़ को माता भुनेश्वरी का ध्यान करते हुए घिसकर तिलक लगाएं ऐसा करने से आपकी आकर्षण शक्ति बढ़ने लगेगी ।*

 

🤵🏻👰🏻 *पति पत्नी में अनबन हो तो*

 

*नवमी की रात चंदन और केसर पाऊडर मिलाकर पान के पत्ते पर रखें । फिर दुर्गा माताजी की फोटो के सामने बैठ कर चंडी स्तोत्र का पाठ करें ।रोजाना इस पाऊडर का तिलक लगाएं ।*

 

🌷 chatra Navratri Totka 🌷

 

🙏🏻 *नवरात्र की अष्टमी यानी आठवें दिन माता दुर्गा को नारियल का भोग लगाएं । इससे घर में सुख समृद्धि आती है ।*

 

🌷 chatra Navratri Totka 🌷

 

🙏🏻 *मन की शांति मिलती है मां महागौरी की पूजा से* 🌷

 

*नवरात्रि के आठवें दिन मां महागौरी की पूजा की जाती है।

आदिशक्ति श्री दुर्गा का अष्टम रूप श्री महागौरी है।

मां महागौरी का रंग अत्यंत गोरा है, इसलिए इन्हें महागौरी के नाम से जाना जाता है।

नवरात्रि का आठवां दिन हमारे शरीर का सोम चक्रजागृत करने का दिन है।

सोमचक्र ललाट में स्थित होता है।

श्री महागौरी की आराधना से सोमचक्र जागृत हो जाता है, और इस चक्र से संबंधित सभी शक्तियां श्रद्धालु को प्राप्त हो जाती है।

मां महागौरी के प्रसन्न होने पर भक्तों को सभी सुख स्वत: ही प्राप्त हो जाते हैं।

साथ ही, इनकी भक्ति से हमें मन की शांति भी मिलती है।*

 

Focus word :-

Sabhi Samashya Nivaran Totka लेख में बताए हुए नियम से आप अपनी जीवन की सारी समस्या ठीक kare ,

or खुशहाल जीवन जी सकते हैं।

और आपभौतिक सुख के साथ अध्यात्मिक ऊंचाई पाना चाहतें है तो, गुरू दीक्षा लेकर साधना करें।

योग ,ध्यान, भक्ति, क्रीया से संबंधित साधना शिविर में शामिल होने के लीये संपर्क करे।

Sabhi Samashya Nivaran Totka लेख साधको में सेयर कर अपार पुण्य लाभ अवश्य कमाऐ।

thank you

क्रिया योग ,ध्यान योग ,मंत्र साधना शिविर में शामिल होना चाहते है तो संपर्क करे वाट्स अप नं 7898733596 साधना विषय :- 1.क्रीया योग की उस गुप्त साधना का अभ्यास जिनका, वीडियो या लेख में बताना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। २. ध्यान की खाश तकनीक। ३. मंत्र योग की खाश विधि। ४. समाधी की गुप्त रहस्य। ५. कुंडलिनी जागरण की गुप्त और विशेष टेक्निक। 6. आर्थिक और आध्यात्मिक विकास के लिये विशेष साधना विधि नोट :- Lockdown के बाद साधना शिविर में शामिल होकर आध्यात्मिक विकास करें । यदि आप का भाग्य में गुरु क्रपा नहीं है तो आप अभागा हैं। और गुरु दीक्षा लेकर ईस दिन गुरू मंत्र का विशेष अनुष्ठान कीया तो अभागा भी महा पुण्य वान, माहा भाग्यशाली बन जायेगा सिर्फ श्रद्धा विश्वास रखता हो !