January 25, 2022
  • January 25, 2022

Photo Layout

Ashnashth dhyan Vidhi

by January 9, 2019 0

Asnashth dhyan Asnashth dhyan क्या है ? :- आसन का अर्थ है हमारे शरीर की स्थिति और ध्यान का मतलब आत्मा में विश्राम करना, Asnashth dhyan का मतलब आत्मा नंद मे आराम करना । Asnashth dhyan व्यक्ति सहज ही चिदात्‍म सरोवर में आनंदित हो जाता है। यह रहस्य है, और समझ...

Read More

उपवास का अर्थ और विधि

by January 8, 2019 0

उपवास का अर्थ और विधि उपवास :- उप +वास , यानि आत्मा के समीप निवास करने की विधी को उपवास का अर्थ और विधि कहते हैं। कुछ लोग उपवास का अपने मन से ही अर्थ समझ लिया है कि चावल भोजन न खाये भले ही भारी भोजन जैसे डालडा घीं से...

Read More

Rule of success in practice

by December 21, 2018 0

Rule of success in practice Anyone who follows the 9 Rule , whoever follows, can not even stop Trideva, even if any Sadhna will get success. 👉 Swaivayan: – By reciting the Yogavasant Maha Ramayana, Ashtavakra Geeta, Avadhoot Geeta etc., like the Nishi Self-contemplation Vishak Shastra, the mind comes from non-Self...

Read More

Kundlini Sakti Kya ha, Jagane Ki vidhi.

by December 12, 2018 0

Kundlini Sakti Kya ha, Jagane Ki vidhi. kundlini sakti क्या है ,jagane की विधियां :- सभी जीव मात्र में एक ऐसी रहस्य मय शक्ति सुप्त अवस्था में विद्यमान है जिसे सिर्फ और सिर्फ मनुस्य ही जगा सकता हे इस महा शक्ति को योग शास्त्र में काफी विस्तार से वर्णन किया गया...

Read More
क्रिया योग ,ध्यान योग ,मंत्र साधना शिविर में शामिल होना चाहते है तो संपर्क करे वाट्स अप नं 7898733596 साधना विषय :- 1.क्रीया योग की उस गुप्त साधना का अभ्यास जिनका, वीडियो या लेख में बताना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। २. ध्यान की खाश तकनीक। ३. मंत्र योग की खाश विधि। ४. समाधी की गुप्त रहस्य। ५. कुंडलिनी जागरण की गुप्त और विशेष टेक्निक। 6. आर्थिक और आध्यात्मिक विकास के लिये विशेष साधना विधि नोट :- Lockdown के बाद साधना शिविर में शामिल होकर आध्यात्मिक विकास करें । यदि आप का भाग्य में गुरु क्रपा नहीं है तो आप अभागा हैं। और गुरु दीक्षा लेकर ईस दिन गुरू मंत्र का विशेष अनुष्ठान कीया तो अभागा भी महा पुण्य वान, माहा भाग्यशाली बन जायेगा सिर्फ श्रद्धा विश्वास रखता हो !